• Last Updates : 04:52 PM
 मोदी गुरुवार को शहरी गैस परियोजना का शुभारंभ करेंगे

मोदी गुरुवार को शहरी गैस परियोजना का शुभारंभ करेंगे

नई दिल्ली, 21 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को यहां शहरी गैस वितरण (सीजीडी) से जुड़ी बोलियों के नौवें चरण के तहत 129 जिलों के 65 क्षेत्रों में सीजीडी परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। यह जानकारी पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा दी गई है।

इससे भारत के 35 फीसदी भौगोलिक क्षेत्र में बसी 50 फीसदी आबादी को पीएनजी और सीएनजी के रूप में स्वच्छ ईंधन मिलेगा।

मंत्रालय ने कहा कि मुख्य कार्यक्रम नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में 22 नवंबर, 2018 को शाम चार बजे आयोजित किया जाएगा। भारत के 19 राज्यों में फैले भौगोलिक क्षेत्रों में से प्रत्येक क्षेत्र में अधिकृत निकाय भी स्थानीय तौर पर अपने-अपने कार्यक्रम आयोजित करेंगे।

मंत्रालय द्वारा जारी एक विज्ञिक्ति अनुसार, इनके ठेके हाल ही में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (पीएनजीआरबी) द्वारा दिए गए हैं। इसके परिणामस्वरूप नौंवें दौर तक 26 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में रहने वाली देश की लगभग आधी आबादी को सहज ढंग से पर्यावरण अनुकूल एवं सस्ती प्राकृतिक गैस उपलब्ध होने लगेगी।

मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार, इस तरह पूरे देश के 65 विभिन्न स्थानों पर रहने वाले लोगों को एक साथ ही अपने-अपने अधिकृत क्षेत्रों में सीजीडी परियोजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़ी योजना के बारे में विस्तृत जानकारी मिल जाएगी। अधिकृत निकायों ने स्थानीय कार्यक्रमों में विभिन्न गणमान्य व्यक्तियों जैसे कि मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय मंत्रियों, संबंधित राज्य सरकारों के मंत्रियों, स्थानीय सांसदों और विधायकों के अलावा वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों, अन्य जाने-माने लोगों और आम जनता को भी आमंत्रित करने की योजना बनाई है।

इस कार्यक्रम के दौरान मोदी 14 राज्यों के 124 जिलों में फैले 50 भौगोलिक क्षेत्रों में शहरी गैस वितरण (सीजीडी) से जुड़ी बोलियों के 10वें दौर का भी शुभारंभ करेंगे।

भारत सरकार गैस आधारित अर्थव्यवस्था की दिशा में अग्रसर होने के लिए देश भर में ईंधन/कच्चे माल के रूप में पर्यावरण अनुकूल स्वच्छ ईंधन अर्थात प्राकृतिक गैस के उपयोग को बढ़ावा देने पर विशेष जोर दे रही है।

मंत्रालय ने कहा, पर्यावरण हितैषी गैस आधारित अर्थव्यवस्था विकसित करने योजना के तहत सीजीडी नेटवर्क का प्रसार किया जा रहा है, ताकि देश के नागरिकों के लिए स्वच्छ रसोई ईंधन यानी पाइप से आपूर्ति की जाने वाली प्राकृतिक (पीएनजी) और स्वच्छ परिवहन ईंधन यानी संपीडित प्राकृतिक गैस (सीएनजी) की उपलब्धता बढ़ाई जा सके।

सीजीडी नेटवर्क के विस्तार से औद्योगिक और वाणिज्यिक इकाइयां (यूनिट) भी लाभान्वित होंगी, क्योंकि इसके तहत प्राकृतिक गैस की अबाधित आपूर्ति सुनिश्चित होगी।

इस परियोजना के तहत अब तक देश के विभिन्न हिस्सों में 96 शहरों व जिलों को शामिल किया गया। जहां मौजूदा सीजीडी नेटवर्कों के जरिए लगभग 46.5 लाख परिवारों और 32 लाख सीएनजी चालित वाहनों को गैस मुहैया करवाई जा रही है।

पीएनजीआरबी ने 22 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के 174 जिलों को कवर करने वाले 86 भौगोलिक क्षेत्रों के लिए अप्रैल, 2018 में सीजीडी से जुड़ी बोलियों का नौवां चरण शुरू किया, जिसमें प्राप्त बोलियों की प्रोसेसिंग के बाद सफल बोलीदाताओं को संबंधित अधिकार पत्र जारी किए गए हैं, ताकि वे मौजूदा 84 भौगोलिक क्षेत्रों के लिए सीजीडी नेटवर्क का विकास कर सकें।

मंत्रालय ने कहा कि देशभर में अगले आठ वर्षों में लगभग दो करोड़ पीएनजी (घरेलू) कनेक्शन और 4600 सीएनजी केंद्र स्थापित होने की उम्मीद है।

--आईएएनएस

04:38 PM
 पराबैगनी किरणों से बचाएगी एप्पल वाच

पराबैगनी किरणों से बचाएगी एप्पल वाच

सेन फ्रांसिस्को, 21 नवंबर (आईएएनएस)। नई एप्पल वाच आपको तेज धूप, समय से पहले झुर्रियां पड़ने और यहां तक कि त्वचा कैंसर से भी बचाएगी, क्योंकि यूएस पेशेंट एंड ट्रेडमार्क ऑफिस ने इसे पराबैगनी (यूवी) किरणों पर निगरानी का पेटेंट दे दिया है।

एप्पल का पेटेंट एक सिस्टम के बारे में बताता है, जहां यूवी लाइट सेंसर तेज धूप को पहचानता है और समय के साथ उसके प्रभाव का पता लगाता है।

एप्पल इनसाइडर की मंगलवार की रपट के अनुसार, यह सिस्टम उपयोगकर्ता को उनके शरीर पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव के बारे में चेतावनी दे सकता है, जिसमें अत्यधिक मात्रा की स्थिति में सलाह और रोकथाम के उपाय भी बता सकता है।

एप्पल वाच में यूवी का पता लगाने वाला फीचर आ जाएगा तो यह उपयोगकर्ता को यह भी बताएगा कि वे धूप में कब निकले थे और यूवी के संपर्क में बहुत लंबे समय तक रहे थे।

सेंसरों से प्राप्त यह आंकड़ा एक विश्लेषक में पहुंचता है, जो धूप में रहने का पूरा समय और उपयोगकर्ता यूवी किरणों के संपर्क में कितने समय तक रहने के आंकड़ों का संकलन कर उपयोगकर्ता को सतर्क कर देगा।

नई एप्पल वाच में हृदय की कम गति की नोटीफिकेशन और तेज गति की नोटीफिकेशन वाले दो नए फीचरों के साथ इलेक्ट्रिकल हर्ट सेंसर भी दिया गया है।

--आईएएनएस

04:19 PM
 फुटबाल : दक्षिण अफ्रीका ने पैराग्वे को 1-1 से ड्रॉ पर रोका

फुटबाल : दक्षिण अफ्रीका ने पैराग्वे को 1-1 से ड्रॉ पर रोका

डरबन, 21 नवंबर (आईएएनएस)। पेर्सी टेउ के इंजुरी टाइम में किए गए अहम गोल की मदद से मेजबान दक्षिण अफ्रीका ने यहां एक दोस्ताना मैच में पैराग्वे को 1-1 से ड्रॉ पर रोक दिया।

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के अनुसार, पैराग्वे की टीम आठ साल बाद दक्षिणी अफ्रीकी धरती पर कोई मैच खेल रही थी। उसने दक्षिण अफ्रीका में अपना आखिरी मैच 2010 विश्वकप के क्वार्टर फाइनल में खेला था।

यहां मोसेस मेभीदा स्टेडियम मे मंगलवार को खेले गए 24वें नेल्सन मंडेला चैलेंज मुकाबले में मेजबान दक्षिण अफ्रीकी टीम ने पहले आधे घंटे तक अपना दबदबा कायम रखा। लेकिन वह गोल करने में नाकाम रही।

दूसरी तरफ पैराग्वे ने मेजबान टीम के गोलकीपर डैरेन कीट की कमजोरी का फायदा उठाते हुए 31वें मिनट में गोलकर 1-0 की बढ़त बना ली। मेहमान टीम के लिए यह गोल फेडरिको सानटेंडर ने किया।

दूसरे हाफ में दोनों टीमों के पास गोल करने के कई अवसर आए। आखिरकार पेर्सी टेउ ने इंजुरी टाइम में गोलकर दक्षिण अफ्रीका को 1-1 की बराबरी दिला दी।

--आईएएनएस

04:52 PM
 खाशोगी हत्या की नए सिरे से जांच चाहती है अमेरिकी सीनेट समिति (लीड-1)

खाशोगी हत्या की नए सिरे से जांच चाहती है अमेरिकी सीनेट समिति (लीड-1)

वाशिंगटन, 21 नवंबर (आईएएनएस)। अमेरिकी राष्ट्रपति ने जमाल खाशोगी की हत्या में अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के निष्कर्ष को अनिर्णायक करार दिया है। इसके बाद सीनेट की एक समिति ने डोनाल्ड ट्रंप से चार महीने में इस बात का पता लगाने के लिए नई जांच शुरू करने के लिए कहा है कि पत्रकार की हत्या में सऊदी क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की कोई भूमिका थी या नहीं।

ट्रंप ने दिन की शुरुआत में कहा कि सीआईए हत्या के इस मामले में किसी निर्णायक निष्कर्ष पर नहीं पहुंची है। इसके बाद अमेरिकी सीनेट की विदेशी संबंधों की समिति के रिपब्लिकन और डेमोक्रेट नेताओं ने एक पत्र भेजकर दूसरी जांच की मांग की है।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि सीआईए का मानना है कि सलमान ने ही हत्या का आदेश दिया था।

रिपब्लिकन सीनेटर बॉब कॉर्कर और डेमोक्रेट बॉब मेनेनडेज ने एक बयान जारी कर ट्रंप प्रशासन से दूसरी जांच की मांग की है।

ट्रंप ने स्वीकार किया, ऐसा हो सकता है कि क्राउन प्रिंस को खाशोगी की क्रूर हत्या के बारे में जानकारी हो। इसके साथ ही उन्होंने जोड़ा, शायद ऐसा हो या शायद ऐसा न भी हो।

खाशोगी की तुर्की के इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास के भीतर दो अक्टूबर को हत्या कर दी गई थी।

--आईएएनएस

03:51 PM
 मोदी गुरुवार को शहरी गैस परियोजना का शुभारंभ करेंगे

मोदी गुरुवार को शहरी गैस परियोजना का शुभारंभ करेंगे

नई दिल्ली, 21 नवंबर (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को यहां शहरी गैस वितरण (सीजीडी) से जुड़ी बोलियों के नौवें चरण के तहत 129 जिलों के 65 क्षेत्रों में सीजीडी परियोजनाओं की आधारशिला रखेंगे। यह जानकारी पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा दी गई है।

इससे भारत के 35 फीसदी भौगोलिक क्षेत्र में बसी 50 फीसदी आबादी को पीएनजी और सीएनजी के रूप में स्वच्छ ईंधन मिलेगा।

मंत्रालय ने कहा कि मुख्य कार्यक्रम नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में 22 नवंबर, 2018 को शाम चार बजे आयोजित किया जाएगा। भारत के 19 राज्यों में फैले भौगोलिक क्षेत्रों में से प्रत्येक क्षेत्र में अधिकृत निकाय भी स्थानीय तौर पर अपने-अपने कार्यक्रम आयोजित करेंगे।

मंत्रालय द्वारा जारी एक विज्ञिक्ति अनुसार, इनके ठेके हाल ही में पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (पीएनजीआरबी) द्वारा दिए गए हैं। इसके परिणामस्वरूप नौंवें दौर तक 26 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में रहने वाली देश की लगभग आधी आबादी को सहज ढंग से पर्यावरण अनुकूल एवं सस्ती प्राकृतिक गैस उपलब्ध होने लगेगी।

मंत्रालय द्वारा मंगलवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार, इस तरह पूरे देश के 65 विभिन्न स्थानों पर रहने वाले लोगों को एक साथ ही अपने-अपने अधिकृत क्षेत्रों में सीजीडी परियोजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़ी योजना के बारे में विस्तृत जानकारी मिल जाएगी। अधिकृत निकायों ने स्थानीय कार्यक्रमों में विभिन्न गणमान्य व्यक्तियों जैसे कि मुख्यमंत्रियों, केंद्रीय मंत्रियों, संबंधित राज्य सरकारों के मंत्रियों, स्थानीय सांसदों और विधायकों के अलावा वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों, अन्य जाने-माने लोगों और आम जनता को भी आमंत्रित करने की योजना बनाई है।

इस कार्यक्रम के दौरान मोदी 14 राज्यों के 124 जिलों में फैले 50 भौगोलिक क्षेत्रों में शहरी गैस वितरण (सीजीडी) से जुड़ी बोलियों के 10वें दौर का भी शुभारंभ करेंगे।

भारत सरकार गैस आधारित अर्थव्यवस्था की दिशा में अग्रसर होने के लिए देश भर में ईंधन/कच्चे माल के रूप में पर्यावरण अनुकूल स्वच्छ ईंधन अर्थात प्राकृतिक गैस के उपयोग को बढ़ावा देने पर विशेष जोर दे रही है।

मंत्रालय ने कहा, पर्यावरण हितैषी गैस आधारित अर्थव्यवस्था विकसित करने योजना के तहत सीजीडी नेटवर्क का प्रसार किया जा रहा है, ताकि देश के नागरिकों के लिए स्वच्छ रसोई ईंधन यानी पाइप से आपूर्ति की जाने वाली प्राकृतिक (पीएनजी) और स्वच्छ परिवहन ईंधन यानी संपीडित प्राकृतिक गैस (सीएनजी) की उपलब्धता बढ़ाई जा सके।

सीजीडी नेटवर्क के विस्तार से औद्योगिक और वाणिज्यिक इकाइयां (यूनिट) भी लाभान्वित होंगी, क्योंकि इसके तहत प्राकृतिक गैस की अबाधित आपूर्ति सुनिश्चित होगी।

इस परियोजना के तहत अब तक देश के विभिन्न हिस्सों में 96 शहरों व जिलों को शामिल किया गया। जहां मौजूदा सीजीडी नेटवर्कों के जरिए लगभग 46.5 लाख परिवारों और 32 लाख सीएनजी चालित वाहनों को गैस मुहैया करवाई जा रही है।

पीएनजीआरबी ने 22 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के 174 जिलों को कवर करने वाले 86 भौगोलिक क्षेत्रों के लिए अप्रैल, 2018 में सीजीडी से जुड़ी बोलियों का नौवां चरण शुरू किया, जिसमें प्राप्त बोलियों की प्रोसेसिंग के बाद सफल बोलीदाताओं को संबंधित अधिकार पत्र जारी किए गए हैं, ताकि वे मौजूदा 84 भौगोलिक क्षेत्रों के लिए सीजीडी नेटवर्क का विकास कर सकें।

मंत्रालय ने कहा कि देशभर में अगले आठ वर्षों में लगभग दो करोड़ पीएनजी (घरेलू) कनेक्शन और 4600 सीएनजी केंद्र स्थापित होने की उम्मीद है।

--आईएएनएस

04:38 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account