• Last Updates : 02:00 PM

कोपा अमेरिका : कोलंबिया ने मेसी की अर्जेटीना को 2-0 से मात दी

साल्वाडोर (ब्राजील), 16 जून (आईएएनएस)। अर्जेटीना की केपा अमेरिका-2019 टूर्नामेंट में शुरुआत खराब रही और उसे ग्रुप-बी के अपने पहले मैच में कोलंबिया के खिलाफ 2-0 से हार झेलनी पड़ी।

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, अर्जेटीना के खिलाफ कोलंबिया की पिछले 12 वर्षो में यह पहली जीत है।

इस अहम मुकाबले में कोलंबिया के लिए रोजर मार्टिनेज और डुवान जापाटा ने गोल दागे।

मैच के पहले हाफ में हालांकि, दोनों टीमों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली।

अर्जेटीना ने जहां अटैकिंग अप्रोच अपानाई, तो वहीं कोलंबिया ने भी काउंटर अटैक का तरीका अपनाया।

दोनों टीमों को पहले 45 मिनट में गोल करने में सफलता नहीं मिली।

दूसरे हाफ में शुरू से ही कोलंबिया बेहतर टीम नजर आई। 70वें मिनट में मार्टिनेज लेफ्ट विंग से 18 गज के बॉक्स में दाखिल हुए और गोल करते हुए अपनी टीम को बढ़त दिला दी।

इसके बाद, कभी भी ऐसा नहीं लगा कि मेसी की टीम मुकाबले में वापसी कर सकती है।

मैच समाप्त होने से चार मिनट पहले जपाटा को मौका मिला और उन्होंने गोल करते हुए अपनी टीम की जीत सुनिश्चित कर दी।

कोलंबिया ने इससे पहले, 2007 में अर्जेटीना को 2-1 से मात दी थी।

-आईएएनएस

02:00 PM

ताहिर ने अकेले हमें मजबूत किया है : डु प्लेसिस

कार्डिफ, 16 जून (आईएएनएस)। इमरान ताहिर के शानदार प्रदर्शन के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने विश्व कप 2019 की अपनी पहली जीत दर्ज की। शनिवार को दक्षिण अफ्रीका ने अफगानिस्तान को नौ विकेट से करारी शिकस्त दी।

दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने मैच के बाद ताहिर की खूब प्रशंसा की। ताहिर ने 29 रन देकर चार विकेट चटकाए। उनके अलावा क्रिस मोरिस को भी तीन विकेट मिले।

डु प्लेसिस ने मैच के बाद कहा, आज का दिन हमारे लिए अच्छा रहा। हमने इस बारे में बहुत बात की थी और आज हमने अच्छा प्रदर्शन किया। विकेट सीम गेंदबाजों के लिए अच्छी थी और हमें चुनौती मिल सकती थी। अच्छी शुरुआत करना जरूरी था, विकेट स्पिन के मुताबिक नहीं थी।

गदेंबाजों की तारीफ करते हुए डु प्लेसिस ने कहा, मोरिस और ताहिर ने बीच के आवरों में दमदार गेंदबाजी करते हुए विकेट लिए। ताहिर ने बीच के आवरों में विकेट लेने की अपनी क्षमता के कारण अकेले अपने दम पर पिछले दो वर्षो में हमें मजबूत टीम बनाया है।

दक्षिण अफ्रीका का अगला मैच 19 जून को न्यूजीलैंड के खिलाफ होगा।

--आईएएनएस

01:27 PM

करुणारत्ने ने हार के लिए मध्यक्रम को दोषी ठहराया

लंदन, 16 जून (आईएएनएस)। श्रीलंका के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने शनिवार को यहां आस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली 87 रनों की हार के लिए टीम के मध्यक्रम को दोषी ठहाराया।

मौजूदा चैम्पियन द्वारा दिए गए 335 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए एक समय श्रीलंका का स्कोर 153/2 था, लेकिन पूरी टीम 45.5 ओवर में 247 रनों पर ही सिमट गई।

करुणारत्ने ने मैच के बाद कहा, विकेट बहुत अच्छी थी। उस पर सीम मूवमेंट भी थी, लेकिन बल्लेबाजी के लिए विकेट फिर भी अच्छी थी। हमने पहले 25 ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की, फिर फिंच और स्मिथ ने बेहतरीन बल्लेबाजी की, लेकिन अंतिम ओवरों में हम वापसी करने में कामयाब रहे।

करुणारत्ने ने कहा, हमने बल्ले से अच्छी शुरुआत की, लेकिन हम उसका फायदा नहीं उठा पाए और जब मध्यक्रम आया तो वो भी बेहतरीन शुरुआत का लाभ नहीं उठा पाया। वे दबाव नहीं झेल पाए।

इस बीच, करुणारत्ने ने आस्ट्रेलिया की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, आस्ट्रेलिया के पास शीर्ष स्तरीय गेंदबाज हैं। हम पहले भी उनका सामना कर चुके हैं और हमारे पास इस बार गेम प्लान नहीं था। हमें बारिश के कारण भी कुछ मैच खोने पड़े।

आस्ट्रेलिया अगले मैच में बांग्लादेश का सामना करेगी जबकि श्रीलंका का मुकाबला मेजबान इंग्लैंड से होगा।

--आईएएनएस

12:44 PM

हम हर मैच से साथ मजबूत हो रहे हैं : फिंच

लंदन, 16 जून (आईएएनएस)। श्रीलंका के खिलाफ 87 रनों से जीत दर्ज करने के बाद मौजूदा चैम्पियन आस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच ने कहा कि उनकी टीम हर मैच के साथ बेहतर हो रही है।

पांच बार की चैम्पियन आस्ट्रेलिया आठ अंकों के साथ विश्व कप की तालिका में पहले पायदान पर मौजूद है। उसने पांच में से चार मुकाबलों में जीत दर्ज की है।

श्रीलंका के खिलाफ मिशेल स्टार्क ने दमदार गेंदबाजी करते हुए 55 रन देकर चार विकेट लिए। फिंच ने कहा, स्टार्क जैसे ही नए बल्लेबाज को भाप लेते हैं वैसे ही उन पर हावी हो जाते हैं। वह एक विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं और फिर एक आईसीसी टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं।

फिंच ने कहा, हम हर मैच के साथ बेहतर हो रहे हैं। जिस तरह से हमने बीच के ओवर में प्रदर्शन किया, वो शानदार रहा। हमें स्थिति का जायजा लेना होगा और अगले मैच के लिए सबसे बेहतर संयोजन के बारे में सोचना होगा। हमने समय-समय पर अच्छी क्रिकेट खेली है और कई क्षेत्रों में सुधार भी कर सकते हैं।

आस्ट्रेलिया अगले मैच में बांग्लादेश का सामना करेगी जबकि श्रीलंका का मुकाबला मेजबान इंग्लैंड से होगा।

--आईएएनएस

12:23 PM

भारत-पाक मैच को लेकर सट्टा बाजार 100 करोड़ के पार

नई दिल्ली, 15 जून (आईएएनएस)। आईसीसी विश्व कप-2019 में भारत और पाकिस्तान का मैच रविवार को मैनचेस्टर में खेला जाएगा और पुलिस के अनुमान के मुताबिक इस मैच को लेकर दिल्ली एनसीआर में सट्टा बाजार 100 करोड़ के पार चला गया है।
सट्टेबाजों का फरीदाबाद, गाजियाबाद, नोएडा और गुरुग्राम जैसे दिल्ली से सटे इलाकों में नेटवर्क बहुत मजबूत माना जाता है। पुलिस उपायुक्त मधुर वर्मा ने आईएएनएस से कहा, रविवार को भारत-पाकिस्तान के बीच होने वाले मैच को लेकर हमारी सट्टेबाजों पर पैनी नजर है। हम हर तरीके से उन्हें देख रहे हैं। हम पांच सितारा होटलों, गेस्ट हाउस, खासकर करोल बाग और पुरानी दिल्ली के इलाके में कड़ी नजर रखे हुए क्योंकि यह इलाके बड़े सट्टेबाजों की निगाह में रहते हैं। इन सट्टेबाजों का नेटवर्क काफी मजबूत होता जिसको पकड़ पाना काफी मुश्किल होता है, लेकिन हम अपना काम कर रहे हैं। वर्मा ने कहा, पहले, पुलिस ने उत्तरी दिल्ली से कुछ बड़े सट्टेबाजों को पकड़ा था जिनके पास मुश्किल इंटरनेट सॉफ्टवेयर था जो सट्टेबाजी के लिए फोन से जुड़ा हुआ था। पुलिस के सूत्रों ने बताया कि सट्टाबाजार में भारत का पलड़ा भारी है। वहीं सट्टा सिर्फ मैच के परिणाम पर नहीं बल्कि एक-एक ओवर, एक-एक गेंद, कौन कितने रन बनाएगा, कौन कितने विकेट लेगा इस पर भी लगता है। सट्टेबाज ने आईएएनएस से कहा, आईपीएल मैच की तरह, इस विश्व कप में भी कॉलेज के छात्र, व्यवसायी, होटल के मालिक, क्रिकेट प्रशंसक, व्यापारी, कॉरपोरेट महिलाएं, हवाला कारोबारी, हमारे साथ हैं। 60 प्रतिशत से ज्यादा दांव भारत की जीत पर हैं। एक सूत्र ने बताया, भारतीय खिलाड़ियों को लेकर आधार कीमत तय है, उदाहरण के तौर पर जसप्रीत बुमराह के लिए 15 रुपये, और मोहम्मद आमिर के लिए छह रुपये बल्लेबाजों पर भी दांव लगाए गए हैं कि कौन अर्धशतक जमाएगा और कौन शतक। उदाहरण के तौर पर भारतीय कप्तान विराट कोहली और रोहित शर्मा, और पाकिस्तान के लिए बाबर आजम तथा फखर जमन के ऊपर दांव है। --आईएएनएस

11:29 PM

कोहली और टीम का ध्यान सिर्फ आमिर पर नहीं (लीड-1)

मैनचेस्टर, 15 जून (आईएएनएस)। भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले बहुचर्चित मुकाबले से पहले शनिवार को भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह अपना ध्यान तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर के साथ होने वाले व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा पर केंद्रित नहीं कर रहे हैं। कोहली ने कहा कि वो और टीम आमिर के अलावा दूसरे खिलाड़ियों पर भी ध्यान देगें।

कोहली ने मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, मैं टीआरपी के लिए कुछ नहीं कहूंगा।

कोहली ने कहा, आपको हर गेंदबाज की काबिलियत की कद्र करनी चाहिए। आपको किसी भी गेंदबाज के खिलाफ रन बनाने की अपनी क्षमता पर भरोसा होना चाहिए। मैं सिर्फ रेड बॉल या व्हाइट बॉल क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित करता हूं। अन्य 10 खिलाड़ी भी हैं जो मैच पर अपना प्रभाव डाल सकते हैं।

कोहली ने कहा, ऐसा नहीं है कि मैं स्कोर करूंगा और वो विकेट लेंगे तभी मैच हारे और जीते जाएंगे। अच्छे परिणाम के लिए दोनों टीमों के बाकी के 10 खिलाड़ियों को भी बेहतर खेलना होगा। मेरे दिमाग में किसी एक खिलाड़ी को लेकर प्रतिस्पर्धा नहीं है और मैं नहीं समझता कि मुझे किसी को कुछ साबित करने की जरूरत है। मेरे लिए यह काफी सिम्पल है, अगर आप अच्छा नहीं खेलेंगे तो आपको पार्ट टाइम गेंदबाज भी आउट कर देगा।

दोनों टीमों के बीच इससे पहले आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में मुकाबला हुआ था। फाइनल में आमिर ने भारत के शीर्ष क्रम को पवेलियन की राह दिखाई थी। आमिर ने शिखर धवन, रोहित शर्मा और कोहली को पहले नौ ओवर के अंदर ही निपटा दिया था और भारतीय टीम वो मैच 180 रनों से हारी थी।

आमिर की फॉर्म में उसके बाद से थोड़ी गिरावट आई, लेकिन आस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच विकेट लेकर उन्होंने भारतीय बल्लेबाजों की चिंता बढ़ा दी है।

कोहली ने यह भी नहीं बताया कि क्या वह अगले मैच में गेंदबाजी क्रम में कोई परिवर्तन करेंगे या नहीं। उन्होंने कहा, हम परिस्थियों के हिसाब से विभिन्न गेंदबाजी संयोजन के बारे में सोचेंगे। अगर अतिरिक्त तेज गेंदबाज विकल्प है तो हम उसपर भी सोचेंगे। अगर मैच छोटा होगा तो उसपर भी विचार किया जाएगा।

कोहली ने कहा कि ड्रेसिंग रूम में सभी खिलाड़ियों की मानसिक स्थिति वैसी ही है जैसा किसी दूसरे वनडे मैच से पहले होती है न कि मैदान से बाहर बने माहौल जैसेी।

उन्होंने कहा, जब से हम इंग्लैंड में आए हैं तब से हमने कुछ अलग बात नहीं की है। ड्रेसिंग रूम का माहौल बदला नहीं है। ड्रेसिंग रूम का माहौल पिछले मुकाबलों के जैसा ही है। हम समझते हैं कि हम देश के लिए हम कोई भी मैच खेलें उससे भावनाएं जुड़ी रहती हैं। एक क्रिकेट खिलाड़ी के तौर पर हमें देश के लिए खेलने के लिए चुना गया है, हमारी जिम्मेदारी हर मैच को एक जैसा लेने की है, चाहे विपक्षी कोई भी हो। हमारे लिए कुछ भी नहीं बदला है। हम शीर्ष टीम हैं क्योंकि हमने वैसी क्रिकेट खेली है। हमें इस बात को याद रखना होगा। इसलिए हमारी चर्चा नहीं बदली है। हमें अपनी ताकत के मुताबिक खेलना होगा जैसा कि हम पिछले मैचों में करते आए हैं।

इस मैच को लेकर ऐसा माहौल बना है जैसे युद्ध होने वाला हो, खासकर सोशल मीडिया पर जहां दोनों देशों की तरफ से अलग-अलग विज्ञापन चलाए जा रहे हैं। कोहली से जब पूछा गया कि वो समर्थकों को क्या संदेश देना चाहेंगे तो कप्तान ने कहा कि उन्हें माहौल का लुत्फ उठाना चाहिए।

कोहली ने कहा, हमें उम्मीद है कि स्टेडियम पूरा भरा होगा और प्रशंसक मैच का लुत्फ उठाएंगे। विश्व कप में हर मैच में स्टेडियम भरे होते हैं। इसलिए खिलाड़ी के तौर पर हमारे लिए यह बिल्कुल भी अलग नहीं है।

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, मैंने समर्थकों से इस निश्चित दिशा में सोचने के बारे में नहीं कह सकता। एक खिलाड़ी का दिमाग समर्थक से अलग होता है। आप इन दोनों को मिला नहीं सकते। आप प्रशंसकों से उम्मीद नहीं कर सकते कि वह पेशेवर तरीके से इस बारे में सोचेंगे। प्रशंसकों को मैच का लुत्फ उठाना चाहिए, जिस तरह से वह पहले के दिनों से उठाते आ रहे हैं, लेकिन एक खिलाड़ी के तौर पर हमें पेशेवर रहना चाहिए।

यह मैच स्थानीय समय के अनुसार, सुबह 10.30 बजे और भारतीय समय के मुताबिक दोपहर तीन बने शुरू होगा।

--आईएएनएस

08:32 PM

बॉम्बर्स के साथ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर कदम रखेंगे छेत्री

मुंबई, 15 जून (आईएएनएस)। भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री वेब सीरीज बॉम्बर्स के साथ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर कदम रख्ोंगे।

यह वेब सीरीज फुटबाल पर आधारित है।

छेत्री ने आईएएनएस से इस बारे में बात करते हुए कहा, यह कहानी ऐसे किरदारों के बारे में है जो अपने जीवन में दिशा भटक जाते हैं और फुटबाल उन्हें एकसाथ लाता है। इसमें फुटबाल उन्हें अपनी जीवन को सवारने का एक मौका देता है।

छेत्री ने कहा, यह एक प्रेरणादायक कहानी है। मरे लिए जाहिर तौर पर क्योंकि फुटबाल ने ही मुझे इससे जुड़ने पर मजबूर किया। मैं उम्मीद करता हूं कि अधिक लोग इसे देखें और जीवन में प्रेरणा लें।

बॉम्बर्स में रवनीर शोरे, वरुण मित्रा, अहाना कुमरा, सपना पब्बी, प्रिंस नारूला, जाकिर हुसैन, अनुप सानी और मियांग चांग समेत अन्य कलाकार नजर आएंगे।

10 एपिसोड का यह शो 22 जून को जी5 पर दिखाया जाएगा। इसके जरिए ऑस्कर फाउंडेशन के विशेष कार्यक्रम एजुकेशन विद ए किक को समर्थन दिया जाएगा जो प्राथमिक शिक्षा को पूरा करने के उद्देश्य से कमजोर बच्चों को जीवन कौशल सीखने के लिए प्रोत्साहित करता है।

--आईएएनएस

08:12 PM

मैनचेस्टर में भारतीय टीम के साथ जुड़े पंत

मैनचेस्टर, 15 जून (आईएएनएस)। युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत शनिवार को मैनचेस्टर पहुंच कर भारतीय टीम के साथ जुड़ गए।

भारत को रविवार को आईसीसी विश्व कप-2019 में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान का सामना करना है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शनिवार को पंत की एक फोटो ट्वीट की है, जिसमें वह ओल्ड ट्रेफोर्ड पर भारतीय टीम के परिधान में हैं।

भारतीय टीम के इंस्टग्राम पर एक और फोटो है जिसमें पंत पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और दिनेश कार्तिक के साथ अभ्यास कर रहे हैं।

पंत इंग्लैंड सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के चोटिल होने के बाद पहुंचे हैं। धवन को नौ जून को आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए मैच में अंगूठे में चोट लग गई थी। वह अभी भी चोटिल हैं और अंगूठे पर प्लास्टर बांधे हुए हैं।

अगर धवन फिट नहीं हो पाते हैं तो पंत को विश्व कप टीम में शामिल किया जा सकता है। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने हालांकि कहा है कि धवन के सेमीफाइनल मैचों से पहले ठीक होने की उम्मीद है।

--आईएएनएस

07:46 PM

कोहली का ध्यान आमिर के साथ व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा पर नहीं

मैनचेस्टर, 15 जून (आईएएनएस)। भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले बहुचर्चित मुकाबले से पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि वह अपना ध्यान तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर के साथ होने वाले व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा पर केंद्रित नहीं कर रहे हैं।

मैच से पहले कोहली ने कहा, मैं टीआरपी के लिए कुछ नहीं कहूंगा।

कोहली ने कहा, आपको किसी भी गेंदबाज की ताकत की कद्र करनी चाहिए। आपको किसी भी गेंदबाज के खिलाफ रन बनाने की अपनी क्षमता पर भरोसा होना चाहिए। मैं सिर्फ रेड बॉल या व्हाइट बॉल क्रिकेट पर अपना ध्यान केंद्रित करता हूं। अन्य 10 खिलाड़ी भी हैं जो मैच पर अपना प्रभाव डाल सकते हैं।

दोनों टीमों के बीच इससे पहले, आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी में मुकाबला हुआ था। फाइनल में आमिर ने भारत के शीर्ष क्रम को पवेलियन की राह दिखाई थी। आमिर ने शिखर धवन, रोहित शर्मा और कोहली को पहले नौ ओवर के अंदर ही निपटा दिया था और भारतीय टीम वो मैच 180 रनों से हारी थी।

आमिर के फॉर्म में उसके बाद से थोड़ी गिरावट आई, लेकिन आस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच विकेट लेकर उन्होंने भारतीय बल्लेबाजों की चिंता बढ़ा दी है।

कोहली ने यह भी नहीं बताया कि क्या वह अगले मैच में गेंदबाजी क्रम में कोई परिवर्तन करेंगे या नहीं। उन्होंने कहा, हम परिस्थियों के हिसाब से विभिन्न गेंदबाजों के बारे में सोचेंगे। अगर अतिरिक्त तेज गेंदबाज विकल्प है तो हम उसपर भी सोचेंगे। अगर मैच छोटा होगा तो उसपर भी विचार किया जाएगा।

कोहली ने यह भी कहा कि ड्रेसिंग रूम में सभी खिलाड़ियों की मानसिक स्थिति वैसी ही है जैसा किसी दूसरे वनडे मैच से पहले होती है। उन्होंने कहा, ड्रेसिंग रूम का माहौल पिछले मुकाबलों के जैसा ही है। हमें अपनी ताकत के मुताबिक खेलना होगा जैसा कि हम पिछले मैचों में करते आए हैं।

यह मैच स्थानीय समय के अनुसार, सुबह 10.30 बजे और भारतीय समय के मुताबिक दोपहर तीन बने शुरू होगा।

--आईएएनएस

07:20 PM

आचार संहिता के उल्लंघन पर ब्राथवेट को फटकार

दुबई, 15 जून (आईएएनएस)। आईसीसी की आचार संहिता के पहले स्तर का उल्लंघन करने के लिए वेस्टइंडीज के ऑलराउंडर कोर्लोस ब्राथवेट को एक नाकारात्मक अंक (डिमेरिट प्वाइंट) दिया गया।

ब्राथवेट को इंग्लैंड के खिलाफ शुक्रवार को खेले गए मैच में खिलाड़ियों एवं खिलाड़ी समर्थन कर्मियों के लिए बनाई गई आचार संहिता के अनुच्छेद 2.8 का उल्लंघन करने का दोषी पाया गया।

मेजबान टीम के खिलाफ खेले गए मैच के 43वें ओवर में ब्राथवेट ने अम्पायर के निर्णय पर दुख जाहिर किया था जिसके कारण उन्हें एक नाकारात्मक अंक दिया गया है।

ब्राथवेट ने अपनी गलती मानते हुए मैच रैफरी डेविड बून के निर्णय को स्वीकार किया जिस कारण किसी प्रकार के आधिकारिक सुनवाई की जरूरत नहीं हुई।

मैदान पर मौजूद अम्पायर सुंदरम रवि एवं कुमार धर्मसेना, तीसरे अम्पायर रोडनी टकर और चौथे अधिकारी पॉल विल्सन ने खिलाड़ी पर आरोप लगाए।

पहले स्तर का उल्लंघन करने पर ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ी को आधिकारिक रूप से सचेत किया जाता है, उसकी मैच फीस में 50 प्रतिशत कटौती की जाती है या उसे एक नाकारात्मक अंक दिया जाता है।

--आईएएनएस

05:22 PM
 मोदी ने कृषि में संरचनात्मक सुधारों के लिए उच्चस्तरीय समिति घोषित की

मोदी ने कृषि में संरचनात्मक सुधारों के लिए उच्चस्तरीय समिति घोषित की

नई दिल्ली, 15 जून (आईएएनएस)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कृषि में संरचनात्मक सुधारों की सिफारिश के लिए एक उच्चस्तरीय समिति की घोषणा की, जिसमें मुख्यमंत्रियों को शामिल किया जाएगा। साथ ही उन्होंने राज्यों से 2024 तक भारत को 50 खरब डॉलर (5,000 अरब डॉलर) की अर्थव्यवस्था बनाने में योगदान देने का आग्रह किया।

नीति आयोग की शासी परिषद की 5वीं बैठक में अपनी समापन टिप्पणी में उन्होंने एक भारत, श्रेष्ठ भारत अंब्रेला के तहत विभिन्न राज्यों के निवासियों के बीच आपसी संपर्क बढ़ाने का आह्वान किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वैश्विक परिस्थितियां वर्तमान में भारत को एक अनूठा अवसर प्रदान करती हैं, क्योंकि देश खुद को ईज ऑफ डुइंग बिजनेस जैसे वैश्विक बेंचमार्क पर स्थापित कर रहा है।

उन्होंने कहा, हमें 2024 तक भारत को 50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का प्रयास जल्द से जल्द शुरू करना चाहिए। इस उद्देश्य के लिए, राज्यों को अपनी अर्थव्यवस्था को 2 से 2.5 गुना बढ़ाने का लक्ष्य रखना चाहिए। इसके परिणामस्वरूप आम आदमी की क्रय शक्ति बढ़ जाएगी।

मोदी ने मुख्यमंत्रियों से अपने राज्य की निर्यात क्षमता का अध्ययन करने और निर्यात संवर्धन पर काम करने का आह्वान किया।

कृषि में संरचनात्मक सुधारों पर समिति के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि इसमें कुछ मुख्यमंत्रियों को भी शामिल किया जाएगा और इस विषय पर समग्र दृष्टिकोण लिया जाएगा।

केंद्र में बनाए गए दो नए मंत्रालयों और एक नए विभाग के निर्माण का उल्लेख करते हुए, उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय में द्वीप विकास विभाग, लगभग 1,300 द्वीपों के विकास पर काम करेगा जो भारत का हिस्सा हैं।

उन्होंने तटवर्ती राज्यों से आग्रह किया कि वे समुद्र तट से सटे द्वीपों के संबंध में एक पहल करें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि खनन क्षेत्र रोजगार के महत्वपूर्ण अवसर प्रदान कर सकता है, लेकिन उन्होंने याद दिलाया कि कई राज्यों में खदानों के परिचालन में अड़चनें अभी भी बनी हुई हैं।

उन्होंने कहा, नीति आयोग इन मुद्दों पर काम कर रहा है।

उन्होंने राज्यों को समय-समय पर आकांक्षी जिलों की प्रगति की समीक्षा करने का भी आह्वान किया और कहा कि आकांक्षी जिलों में शासन के एक नए मॉडल को स्थापित करने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार राज्यों के साथ साझेदारी करने और भारत के विकास के लिए मिलकर काम करने की इच्छुक है।

उन्होंने कहा कि भारत को अपनी पानी की समस्याओं को हल करने के लिए प्राथमिकता देने और सही कदम उठाने की आवश्यकता है।

प्रधानमंत्री ने गंगा नदी बेसिन प्राधिकरण के लिए एक परिणाम आधारित दृष्टिकोण का आह्वान किया।

--आईएएनएस

10:35 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account