• Last Updates : 09:57 PM

म्यांमार पर ट्वीट के लिए चौतरफा घिरे जैक

सैन फ्रांसिस्को, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। ट्विटर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जैक डोरसी म्यांमार को एक पर्यटक गंतव्य के रूप में प्रचारित करने के लिए आलोचना का शिकार हुए हैं। जबकि देश मानवाधिकार उल्लंघन को लेकर व्यापक तौर पर आरोपों का सामना कर रहा है। इससे पहले जैक पर नवंबर में भारत के अपने दौरे के दौरान हिंदू भावनाओं को आहत करने पर मामला भी दर्ज हुआ था।

एक सिलसिलेवार ट्वीट में जैक ने कहा था कि उन्होंने मन की शांति के लिए नवंबर में उत्तरी म्यांमार की यात्रा की थी।

उन्होंने अपने 40 लाख प्रशंसकों को यात्रा के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा, वहां के लोग खुशमिजाज हैं और खाना लाजवाब है।

इस ट्वीट के बाद ट्विटर प्रमुख को व्यापक आलोचना झेलनी पड़ी। कुछ लोगों ने उनके ऊपर मुस्लिम रोहिंग्या अल्पसंख्यकों की दुर्दशा को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया।

2017 में, रोहिंग्या आतंकवादियों द्वारा कई पुलिस चौकियों पर हमले किए जाने के बाद म्यांमार सेना ने हिंसक कार्रवाई शुरू की थी। हजारों लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया था और मानवाधिकार संगठनों ने कहा था कि सेना ने खेतों को जला दिया था और मनमाने ढंग से हत्याएं व दुष्कर्म किए थे।

जैक के ट्वीट के जवाब में एक ट्विटर उपयोगकर्ता ने लिखा, इस समय उनके लिए मुफ्त में एक पर्यटन विज्ञापन लिखना निन्दनीय है।

--आईएएनएस

08:28 PM

जो सत्ता में हैं, उन्हें राम मंदिर पर सकारात्मक कदम उठाना चाहिए : आरएसएस

नई दिल्ली, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सरकार पर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए विधेयक लाने का दबाव बनाते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने रविवार को आंदोलन को एक और धक्का देने का आह्वान किया और कहा कि जो सत्ता में हैं उन्हें जनता की भावनाओं का सम्मान करना चाहिए और सकारात्मक कदम उठाने चाहिए।

राष्ट्रीय राजधानी के रामलीला मैदान में विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की धर्म सभा को संबोधित करते हुए वरिष्ठ आरएसएस पदाधिकारी सुरेश भैय्याजी जोशी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को राम मंदिर पर उसका पालमपुर प्रस्ताव याद दिलाया और कहा कि अब कोई विकल्प नहीं है और सरकार को इस पवित्र काम के लिए साहस दिखाते हुए आगे आने की जरूरत है।

भगवान राम के हजारों श्रद्धालुओं, संतों और धार्मिक गुरुओं की मौजूदगी में जोशी ने कहा, उन्होंने एक प्रस्ताव पारित किया था कि राम मंदिर वहीं बनाएंगे। अब वक्त आ गया है कि उस प्रस्ताव का सम्मान किया जाए। बिना कोई हिचकिचाहट के उन्हें अपनी प्रतिबद्धता को पूरा करने की ओर आगे बढ़ना चाहिए।

विहिप की धर्म सभा 11 दिसंबर को शुरू होने वाले संसद के शीतकालीन सत्र से दो दिन दिन पहले हुई है।

उन्होंने कहा कि न्यायपालिका का अपना तरीका है, लेकिन लोकतंत्र में संसद के अपने अधिकार हैं और वर्तमान सरकार को कानून तैयार करने की दिशा में पहल करनी चाहिए।

उन्होंने कहा, अब कोई अन्य विकल्प नहीं है। इस पवित्र कार्य के लिए उन्हें साहस दिखाने के लिए आगे आने की जरूरत है। यह सभी राम भक्तों का अनुरोध है। हम भीख नहीं मांग रहे हैं। हम केवल अपने विचार व्यक्त कर रहे हैं। इन भावनाओं के सम्मान में सत्ता की एक बड़ी भूमिका है। मेरा मानना है कि जो सत्ता में हैं, वे इन भावनाओं को समझेंगे और सकारात्मक कदम उठाएंगे।

जोशी ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण देश में राम राज्य लाएगा और जब तक इसका निर्माण नहीं हो जाता, तब तक आंदोलन जारी रहेगा।

जय श्री राम और राम लला हम आएंगे, मंदिर वहीं बनाएंगे के नारों के बीच उन्होंने कहा, कितने समय तक हम भगवान राम को इस अस्थायी व्यवस्था में रहते देखेंगे? यह समाप्त होना चाहिए। स्थाई निवास का कालखंड अंतिम ओर चल पड़ा है, इसे अंतिम धक्का देने की आवश्यकता है। हम सभी भगवान राम को भव्य मंदिर में देखना चाहते हैं। मंदिर का निर्माण देश में राम राज्य की नींव रखेगा। यह तय करेगा कि किस दिशा में देश आगे बढ़ेगा। मंदिर के निर्माण तक आंदोलन जारी रहेगा।

जोशी ने कहा, सत्ता सर्वोच्च नहीं होती लेकिन यह एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। सत्ता के गलियारे में बैठे लोगों को जनता की भावनाओं को समझने की जरूरत है। मुझे विश्वास है कि ना केवल वे इससे अवगत हैं बल्कि वे मंदिर के इस मुद्दे पर इस भावना से सहमत भी हैं।

उन्होंने सर्वोच्च न्यायालय पर भी निशाना साधते हुए कहा कि जिस देश के लोगों का न्यायपालिका में कोई विश्वास नहीं होता, वो देश कभी प्रगति नहीं कर सकता। उन्होंने कहा, न्यायपालिका को भी इस पर विचार करने की जरूरत है।

सभा को संबोधित करते हुए साध्वी ऋतंभरा ने कहा कि सरकार को अपने खुद के लोगों की बात सुननी चाहिए और अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए मार्ग प्रशस्त करना चाहिए।

उन्होंने कहा, अपनों की आवाज अपनों को सुननी चाहिए और राम मंदिर का मार्ग प्रशस्त होना चाहिए।

उन्होंने हिंदुओं की भावनाओं को नजरअंदाज करने के लिए भाजपा पर तंज भी कसा।

उन्होंने कहा, जो लोग भगवान राम के बारे में बात करते थे वे सत्ता का मजा ले रहे हैं लेकिन भगवान राम अभी भी तंबू में हैं। भगवान राम को तंबू में देखना बेहद दुखद है। भगवान राम की विशाल प्रतिमा का निर्माण करने का कोई मतलब नहीं जब तक की अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण नहीं हो जाता। भारत का गौरव अपने स्थान पर रखने में ही सत्ता का कोई अर्थ है।

जैन समुदाय के धर्म गुरू लोकेश मुनी ने सरकार से संसद के शीतकालीन सत्र में मंदिर निर्माण के लिए कानून लाने को कहा।

उन्होंने कहा, अगर मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से बचाने के लिए विधेयक लाया जा सकता है तो राम मंदिर के लिए क्यों नहीं? सरकार को संसद में विधेयक लाना चाहिए और वह भी इस शीत सत्र में। यह स्पष्ट कर देगा कि कौन इसके समर्थन में है और कौन इसके विरोध में। जो इसका विरोध करेंगे वह 2019 लोकसभा चुनाव में नहीं जीतेंगे।

--आईएएनएस

08:06 PM

फ्रांस में येलो वेस्ट आंदोलन में 135 घायल

पेरिस, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। फ्रांस के विभिन्न शहरों में येलो वेस्ट आंदोलन के दौरान पुलिस और युवाओं के बीच हिंसक झड़प में कुल 135 लोगों के घायल होने की खबर है। ये युवा देश में बढ़ती महंगाई के विरोध में सड़कों पर उतरे हैं।

गृह मंत्री क्रिस्टोफ कास्टानेर ने बताया कि 1,385 लोगों को हिरासत में भी लिया गया है।

सोशल मीडिया पर यलो वेस्ट नामक आंदोलन ने हर उम्र व पृष्ठभूमि के लोगों को आकर्षित किया है। प्रदर्शनकारियों द्वारा पीली जैकेट पहनने के कारण इस आंदोलन का नाम यलो वेस्ट पड़ा है।

इस विरोध प्रदर्शन का कोई नेतृत्व नहीं कर रहा है। यह प्रदर्शन बढ़ती महंगाई के खिलाफ हो रहा है जिसका कारण राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों की आर्थिक और वित्तीय नीतियों को जिम्मेदार बताया जा रहा है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि मैक्रों की आर्थिक नीतियां अमीरों के हित में हैं।

इस विरोध प्रदर्शन के दौरान कई लोगों ने मैक्रों के इस्तीफे की मांग की है।

--आईएएनएस

10:48 AM

पूर्णता प्रमाणपत्र के साथ बेचे गए फ्लैटों पर जीएसटी नहीं

नई दिल्ली, 8 दिसम्बर (आईएएनएस)। सरकार ने शनिवार को कहा कि रियल एस्टेट संपत्तियों के उन खरीदारों को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) नहीं चुकाना होगा, जो पूर्णता प्रमाणपत्र जारी किए जाने के बाद पूरी तरह से तैयार संपत्ति खरीदेंगे।

वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा, निर्मित परिसरों, भवनों और तैयार फ्लैटों के खरीददारों को यह सूचित किया जाता है कि ऐसी स्थिति में जहां इनकी खरीद सक्षम अधिकारी द्वारा निर्माण पूरा होने का प्रमाण-पत्र जारी करने के बाद की गई हो, वहां ऐसी संपत्तियों पर वस्तु एवं सेवा कर प्रभावी नहीं होगा।

बयान में कहा गया है कि जीएसटी केवल उन निमार्णाधीन संपत्तियों या तैयार फ्लैटों पर लगाया जाएगा, जिनकी बिक्री के समय तक सक्षम अधिकारी द्वारा उनका निर्माण पूरा होने का प्रमाण-पत्र जारी नहीं किया गया है।

वित्त मंत्रालय ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू राष्ट्रीय शहरी आवास मिशन, राजीव आवास योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना या ऐसी ही अन्य सरकारी रियायती योजनाओं पर आठ फीसदी का जीएसटी लगाए जाने का प्रावधान है।

बयान में कहा गया है, हालांकि ऐसी परियोजनाओं के बिल्डरों को ज्यादातर मामलों में जीएसटी का भुगतान नहीं करना होगा, क्योंकि उनके बुक ऑफ अकाउंट में आउटपुट जीएसटी चुकाने के लिए पर्याप्त मात्रा में इनपुट टैक्स क्रेडिट मौजूद रहेगा। रियायती आवासीय योजनाओं के अलावा ऐसी अन्य योजनाओं पर भी कर अदाएगी जीएसटी लागू होने के बाद ज्यादा बढ़ने की संभावना नहीं है।

--आईएएनएस

09:16 PM

गूगल लाएगी पत्रकारिता एआई, न्यूजरूम में होगा एआई का प्रयोग

लंदन, 8 दिसम्बर (आईएएनएस)। समाचार उद्योग को अधिक अभिनव तरीके से कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) का उपयोग करने में मदद के लिए गूगल ने पत्रकारिता एआई विकसित करने के लिए लंदन स्कूल ऑफ इकॉनमिक्स एंड पोलिटिकल साइंस की अंतर्राष्ट्रीय पत्रकारिता थिंक-टैंक पोलिस के साथ साझेदारी की है।

पत्रकारिता एआई परियोजना गूगल समाचार पहल (जीएनआई) का हिस्सा है, जिसका लक्ष्य एआई और पत्रकारिता के संयोजन से न्यूजरूम के लिए शोध और प्रशिक्षण मुहैया कराना है।

गूगल ने यहां जीएनआई इनोवेशन फोरम में शुक्रवार को एक बयान में कहा, अगले साल पत्रकारिता एआई के तहत हम एक वैश्विक सर्वेक्षण प्रकाशित करेंगे कि किस प्रकार से मीडिया फिलहाल इस तकनीक का प्रयोग कर रहा है और इस तकनीक से और क्या फायदा हो सकता है।

गूगल न्यूज लैब के भागीदारी और प्रशिक्षण प्रमुख मैट कुक ने कहा, हम न्यूजरूम और अकादमिक संस्थानों के साथ भागीदारी में बेस्ट प्रैक्टिस हैंडबुक तैयार करेंगे और मुफ्त ऑनलाइन प्रशिक्षण देंगे कि दुनिया भर के पत्रकार किस प्रकार से न्यूजरूम में एआई का उपयोग कर सकते हैं।

पिछले दो सालों से भागीदारों के साथ परीक्षण के बाद गूगल ने नया टूल उतारा है, जिसे गूगल अर्थ स्टूडियो नाम दिया गया है, जोकि गूगल के सेटेलाइट और 3डी तस्वीरों का एक एनिमेशन टूल है।

यह टूल ग्राफिक विशेषज्ञों को स्टोरी बताने के लिए गूगल अर्थ इमेजरी का फायदा उठाने में नए तरीके से सक्षम बनाता है।

गूगल ने कहा, हम दुनिया भर के न्यूज रूम को इस उत्पाद का पहली बार प्रयोग करने के लिए आमंत्रित करते हैं।

--आईएएनएस

06:26 PM

योगी सबसे अयोग्य मुख्यमंत्री, सिर्फ सांप्रदायिक ध्रुवीकरण के विशेषज्ञ : सपा

लखनऊ, 8 दिसम्बर (आईएएनएस)। समाजवादी पार्टी (सपा) ने शनिवार को योगी आदित्यनाथ को सबसे अयोग्य मुख्यमंत्री बताते हुए उन पर उत्तर प्रदेश में सांप्रदायिक भावनाएं भड़काने की कोशिश करने का आरोप लगाया।

बुलंदशहर हिंसा को केवल एक दुर्घटना कहने के उनके बयान का संदर्भ देते हुए पार्टी के प्रवक्ता अब्दुल हाफिज गांधी ने कहा कि यह दिखाता है कि मुख्यमंत्री एक पुलिस इंस्पेक्टर और एक व्यक्ति के मारे जाने की घटना को कितनी संवेदनहीनता के साथ ले रहे हैं।

सपा नेता ने कहा, मुख्यमंत्री 2019 लोकसभा चुनावों से पहले राज्य में स्पष्टता के साथ ध्रुवीकरण कर रहे हैं।

उन्होंने यह भी बताया कि कैसे सरकार और न ही पुलिस मुख्य साजिशकर्ता योगेश राज को पकड़ने में रूचि नहीं दिखा रही है, जिसका नाम एफआईआर में है।

अब्दुल ने कहा, ऊपर से ही यह स्पष्ट आदेश है कि भाजपा कैडर, इससे जुड़े संगठन और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के लोगों को कानून अपने हाथों में लेने के बावजूद भी कोई हानि नहीं पहुंचाई जाएगी।

सपा प्रवक्ता ने कहा, विकास की बातें और सबका साथ-सबका विकास जैसे नारे खोखले हैं और इस सरकार का एजेंडा सांप्रदायिक ध्रुवीकरण और समाज को धर्म के आधार पर बांटना है।

राज्य सरकार को बजरंग दल के जिला समन्वयक योगेश राज को गिरफ्तार करने में असफल रहने पर चौतरफा आलोचना झेलनी पड़ रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि योगेश ने गोकशी के नाम पर न सिर्फ अफरा-तफरी मचाई बल्कि हिंसा के लिए लोगों को उकसाया ।

एफआईआर में नामित 25 लोगों में से अब तक नौ को गिरफ्तार किया जा चुका है। राज्य सरकार ने समय पर कार्रवाई नहीं करने के लिए शनिवार को बुलंदशहर के जिला पुलिस प्रमुख और दो अन्य पुलिस अधिकारियों का तबादला कर दिया है।

--आईएएनएस

03:04 PM

ईशा अंबानी-आनंद पीरामल का शादी समारोह शुरू

मुंबई, 7 दिसम्बर (आईएएनएस)। ईशा अंबानी और आनंद पीरामल की शादी के विवाह-पूर्व समारोहों की शुरुआत हो गई है और दोनों के परिवारों ने उदयपुर में शुक्रवार से 5,100 लोगों को खाना खिलाने के लिए विशेष चार दिन की अन्न सेवा शुरू की है, जिसमें ज्यादातर दिव्यांग लोग हैं। परिवार के एक सदस्य ने यह जानकारी दी।

इन लोगों को 10 दिसंबर तक रोजाना तीन वक्त का खाना खिलाया जाएगा, जबकि शादी से जुड़े अन्य समारोह का आयोजन शनिवार और रविवार को होगा।

उद्योगपतियों मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता और अजय पीरामल और उनकी पत्नी स्वाति के साथ ईशा और आनंद शनिवार को राज्य के उदयपुर स्थित नारायण सेवा संस्थान में अन्न सेवा समारोह में मौजूद थे। वे लोगों को खाना परोस रहे थे और उनसे बातचीत कर रहे थे।

विशेष उत्सव के दौरान स्वदेश बाजार में देश भर से खासतौर से चुनी हुई 108 पारंपरिक भारतीय हस्तकला की प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी।

अक्टूबर के अंत में घोषणा की गई थी कि अंबानी और पीरामल व्यापारी घराने के उत्तराधिकारी ईशा और आनंद भारतीय परंपराओं, रिवाजों और संस्कृति के मुताबिक अंबानी परिवार के मुंबई निवास पर शादी करेंगे।

--आईएएनएस

10:39 PM
Showing : 7
 बेंगलुरू से फुकेट, माले के लिए गोएयर की उड़ानें शुरू

बेंगलुरू से फुकेट, माले के लिए गोएयर की उड़ानें शुरू

बेंगलुरू, 9 दिसम्बर (आईएएनएस)। सस्ती विमानन सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी, गोएयर ने रविवार को पहली बार बेंगलुरू से थाईलैंड के फुकेट और मालदीव के माले के लिए उड़ानें शुरू की।

कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, कॉर्नेलिस व्रिस्वजिक ने यहां एक बयान में कहा, बेंगलुरू हमारे लिए एक प्रमुख बाजार है और मुंबई व नई दिल्ली के बाद यह तीसरा अंतर्राष्ट्रीय संचालन है।

मुंबई स्थित गोएयर ने 11 अक्टूबर को नई दिल्ली और मुंबई से फुकेट के लिए अपनी विदेशी उड़ान शुरू की थी। विमानन कंपनी की नई दिल्ली और मुंबई से माले के लिए भी उड़ानें हैं।

कंपनी ने बेंगलुरू से फुकेट के लिए सप्ताह में तीन सीधी उड़ानें (सोमवार, गुरुवार और रविवार) घोषित की और बेंगलुरू से माले के लिए सप्ताह में दो सीधी उड़ानें (बुधवार और रविवार) घोषित की।

फुकेट और माले से बेंगलुरू के लिए वापसी की उड़ानें भी उसी दिन होंगी।

कंपनी अपने अंतर्राष्ट्रीय मार्गो पर एयरबस ए320 नियो विमान का इस्तेमाल करेगी।

--आईएएनएस

08:50 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account