• Last Updates : 04:29 PM

दिल्ली : 25 करोड़ रुपये के ड्रग्स के साथ 3 गिरफ्तार

नई दिल्ली, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। दिल्ली पुलिस ने अंतर्राष्ट्रीय ड्रग्स गिरोह का पर्दाफाश करते हुए राजधानी के साकेत इलाके से तीन विदेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने शनिवार को कहा कि आरोपियों के पास से 25 करोड़ रुपये के ड्रग्स जब्त किए गए हैं। आरोपियों की पहचान इस्मातुल्ला (40) निवासी अफगानिस्तान, खलील उल्लाह (22), विक्टर ओसोनड्डू (37) निवासी नाइजीरिया के रूप में हुई है।

पुलिस उपायुक्त पीएस कुशवाहा ने कहा कि गिरफ्तार आरोपी अंतर्राष्ट्रीय गिरोह के मुख्य सदस्य हैं। उन्होंने कहा कि इन तीनों को मंगलवार रात करीब एक बजकर 15 मिनट पर साकेत से उस समय गिरफ्तार किया गया जब इस्मातुल्ला और खलीलउल्लाह ओसोनड्डू को ये ड्रग्स देने आए थे।

उन्होंने कहा, हेरोइन के अलावा ओसोनड्डू ने इस्मातुल्ला से 42000 अमेरिकी डॉलर भी लिए थे, जिसे जब्त कर लिया गया है और भारतीय दंड संहिता के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

कुशवाहा ने बताया कि ये लोग करीब तीन साल से यहां ड्रग्स की सप्लाई कर रहे थे और पिछले दो साल में करीब 100 किलो ड्रग्स बेच चुके हैं।

उन्होंने कहा, ये लोग 30 अगस्त को करीब 15 किलो हेरोइन लेकर आए थे, जिसमें से पांच किलो ओसोनड्डू को सप्लाई कर चुके हैं। ओसोनड्डू छह महीने के वीजा पर 2014 में भारत आया था और वीजा की तारीख समाप्त होने के बाद भी यहां रुका हुआ था।

--आईएएनएस

10:59 PM

हिमाचल में बस खाई में गिरी, 13 की मौत

शिमला, 22 सितंबर (आईएएनएस)। हिमाचल प्रदेश में शनिवार को एक बस के 100 मीटर गहरी खाई में गिरने से 13 लोगों की मौत हो गई।

यह वाहन शिमला जिले के हकोटी से उत्तराखंड के तिउनी जा रहा था कि यह शिमला से लगभग 65 किलोमटीर दूर स्नेल के पास खाई में गिर गया।

एक पुलिस अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि इनमें से 10 की मौके पर ही मौत हो गई।

मृतकों में सात साल की बच्ची भी है।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि प्रशासन को शवों को बस से निकालने में काफी कठिनाई हुई। दुर्घटनास्थल पर बारिश भी हो रही थी।

बचावकर्मियों का कहना है कि जिस सड़क पर यह दुर्घटना हुई, वह काफी खराब हालत में थी।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने घटना पर दुख जताया।

--आईएएनएस

03:27 PM

नन दुष्कर्म मामला : बिशप आज केरल अदालत के समक्ष पेश होंगे

कोट्टायम (केरल), 22 सितंबर (आईएएनएस)। नन दुष्कर्म मामले में शुक्रवार को गिरफ्तार हुए बिशप फ्रैंको मुलक्कल को शनिवार को केरल अदालत के समक्ष पेश किया जाएगा।

जालंधर के रोमन कैथोलिक डाओसिस के बिशप मुलक्कल को शुक्रवार को त्रिपुनीथुरा में गिरफ्तार किया गया था। उनसे इससे पहले तीन दिनों तक पूछताछ होती रही।

हालांकि, बिशप ने छाती में दर्द की शिकायत की थी, जिसके बाद उन्हें कोट्टायम से 10 किलोमीटर दूर एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

सरकारी कोट्टायम मेडिकल कॉलेज अस्पताल के कार्डियोलॉजी विभाग में रात बिताने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें शनिवार को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया।

पुलिस ने बताया कि जैसे ही वह बाहर आए लोगों ने उन्हें ठिठोली करनी शुरू कर दी। मुलक्कल को अदालत में पेश होने तक कोट्टायम पुलिस क्लब में रखा जाएगा।

ऐसा देश में पहली बार हुआ है कि बिशप को दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार किया गया है और पुलिस ने उन पर अवैध रूप से बंधक बनाकर रखने, दुष्कर्म, अप्राकृतिक यौन संबंध और आपराधिक धमकी देने का मामला दर्ज है।

केरल की एक नन ने मुलक्कल पर 2014 से 2016 के बीच लगातार दुष्कर्म करने का आरोप लगाया।

मुलक्कल के वकील जमानत याचिका पेश करेंगे जबकि पुलिस उनकी तीन दिनों की कस्टडी की मांग करेगी।

--आईएएनएस

10:30 AM

सीबीआई प्रमुख के खिलाफ अस्थाना की शिकायत दुर्भावनापूर्ण

नई दिल्ली, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने अपने विशेष निदेशक राकेश अस्थाना द्वारा केंद्रीय सर्तकता आयोग (सीवीसी) से सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा के खिलाफ की गई शिकायत को दुर्भावनापूर्ण और ओछी करार दिया।

एजेंसी ने कहा कि शिकायत का मकसद सीबीआई प्रमुख की छवि को खराब करना और अधिकारियों को भयभीत करना है।

एजेंसी ने एक बयान में कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि सही तरीके से जांच किए बगैर सीबीआई के निदेशक की छवि खराब करने और संगठन के अधिकारियों को धमकाने के लिए सार्वजनिक तौर पर निराधार और तुच्छ आरोप लगाए जा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि विशेष निदेशक की शिकायत के आधार पर सीवीसी ने सीबीआई से कुछ मामलों की फाइल मांगी है।

सीबीआई ने बयान में कहा, सीवीसी के पत्र के जवाब में सीबीआई के मुख्य सर्तकता अधिकारी (सीवीओ) ने बताया कि शिकायतकर्ता (अस्थाना) द्वारा की गई शिकायत सीबीआई के कुछ अधिकारियों को भयभीत करने की कोशिश है, जो करीब आधा दर्जन मामलों में उनकी भूमिका की जांच कर रहे हैं।

सीबीआई का यह बयान मीडिया की उस रिपोर्ट के बाद आई है जिसमें यह दावा किया गया है कि अस्थाना ने उनके तहत कार्य कर रहे विशेष जांच दल द्वारा की जारी जांच में दखल देने का आरोप लगाते हुए सीवीसी के पास शिकायत दर्ज की है।

--आईएएनएस

10:11 PM

जेट एयरवेज पर हत्या की कोशिश का मुकदमा हो

मुंबई, 21 सितंबर (आईएएनएस)। जेट एयरवेज की एक उड़ान में आई परेशानी के कारण यात्रियों के बीमार पड़ने और 30 यात्रियों के कान और नाक से खून बहने की घटना के एक दिन बाद मुंबई के एक कार्यकर्ता ने शुक्रवार को पुलिस से एयरलाइन पर हत्या की कोशिश का मुकदमा चलाने की मांग की है।

कार्यकर्ता असद अशरफ पटेल एक स्थानीय समाचारपत्र भी चलाते हैं। उन्होंने अपने वकील राजकुमार लक्ष्मण अर्जुन राव राजहंस के माध्यम से सहार पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।

चार पन्नों की अपनी शिकायत में पटेल ने जेट एयरवेज के क्रू पर अपने कर्तव्य की उपेक्षा और खराब आपदा प्रबंधन का इल्जाम लगाया है, जिसके कारण मुंबई-जयपुर उड़ान संख्या 9डब्ल्यू-0697 में 20 सितंबर को यह घटना हुई।

शिकायत में कहा गया है कि मीडिया में आई खबरों को देखने के बाद उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा (सीएसएमआईए) के अधिकारियों को फोन कर घटना की जानकारी ली, जिसकी उन्होंने पुष्टि की।

पटेल ने कहा, एक घंटे की ऊंची उड़ान के बाद विमान की आपातकालीन लैंडिंग हुई और करीब 30 यात्री खून से सने (कान और नाक) थे, और बाकी यात्रियों को सांस लेने में परेशानी हो रही थी, जिससे यात्री मरने जैसी हालत में आ गए थे।

उन्होंने आरोप लगाया कि यह विमान पर सवार सभी 166 यात्रियों की हत्या की कोशिश थी, इसलिए भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा चलाया जाना चाहिए।

--आईएएनएस

10:07 PM

मणिपुर विश्वविद्यालय के 80 छात्र गिरफ्तार

इंफाल, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। मणिपुर विश्वविद्यालय के कुलपति कार्यालय से शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने शुक्रवार तड़के (आधी रात के कुछ बाद) छात्रों के छात्रावास में घुसकर विश्वविद्यालय के छह प्रोफेसरों और 80 छात्रों को गिरफ्तार कर लिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

पुलिस महानिरीक्षक एस.कैलुन और क्ले खोंगसाई के अनुसार, प्रभारी कुलपति के.युगींद्रो की शिकायत पर पुलिस आधी रात के बाद छात्रावास परिसर में गई। युगींद्रो ने कहा था कि उन्हें गुरुवार को प्रभार ग्रहण करने से रोका गया।

पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ छात्रों ने जोरदार प्रदर्शन किया। झड़प के बाद पुलिस को भीड़ को तितर बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े।

एक प्रोफेसर अमर युनान ने कहा कि कुछ छात्रों को चोटें आईं और उनका खून बह रहा था।

मणिपुर विश्वविद्यालय में बीते तीन महीनों से अशांति बनी हुई है। यहां छात्रों व शिक्षकों ने कुलपति ए.पी. पांडे को हटाने की मांग की थी।

विश्वविद्यालय को 85 दिनों तक बंद रखा गया था। यहां सितम्बर में स्थिति सामान्य तब हुई, जब एक तथ्यान्वेषी समिति को पांडे के विरुद्ध आरोपों को जांचने के लिए गठित किया गया। पांडे पर वित्तीय व प्रशासनिक अनियमितता में संलिप्त होने का आरोप है।

इन आरोपों से इनकार करने वाले पांडे को 17 सितम्बर को निलंबित कर दिया गया।

प्रभारी कुलपति युगींद्रो ने शुक्रवार को अपना प्रभार संभाला। कुछ शिक्षकों और छात्रों ने गुरुवार को उन्हें जबरदस्ती इस्तीफा देने पर मजबूर कर दिया था।

मणिपुर में अगले पांच दिनों के लिए इंटरनेट सेवा पर पाबंदी लगा दी गई है।

--आईएएनएस

04:08 PM

तंजानिया में नौका पलटी, 79 की मौत (लीड-2)

दोदोमा, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। तंजानिया की विक्टोरिया झील में सैंकड़ों यात्रियों से भरी एक नौका के पलट जाने से 79 लोगों की मौत हो गई है।

यह दुर्घटना गुरुवार को विक्टोरिया झील में दो द्वीपों उकोरा और बुगोलोरा के बीच एमवी न्येरेरे नौका के पलटने से हुई।

बीबीसी के अनुसार, अधिकारियों ने कहा कि दुर्घटना के दौरान नदी में गिरे लोगों की संख्या 200 हो सकती है। बचाव अभियान रात भर रुके रहने के बाद शुक्रवार सुबह फिर शुरू हो गया है।

स्थानीय मीडिया रपटों के अनुसार, नौका की क्षमता 100 लोगों की थी, लेकिन इस पर 400 से अधिक यात्री बिठाए गए थे।

करीब 100 लोगों को बचा लिया गया है, जबकि 37 की हालत गंभीर है।

क्षेत्रीय आयुक्त एडम मालिमा ने संवाददाताओं को बताया कि दुर्घटना के बाद स्थानीय लोगों ने बचाव प्रयासों में आपात दलों की मदद की।

--आईएएनएस

03:06 PM

कमजोर पड़ा चक्रवाती तूफान डेई, ओडिशा में भारी बारिश

भुवनेश्वर, 21 सितम्बर (आईएएनएस)। चक्रवाती तूफान डेई के प्रभाव से ओडिशा के कई भागों में गरज के साथ भारी बारिश हुई।

चक्रवाती तूफान शुक्रवार तड़के गोपालपुर में ओडिशा तट से आगे बढ़ गया।

तूफान की वजह से गजपति, गंजम, पुरी, रायगढ़ा, कालाहांडी, कोरापुट, मलकानगिरी, नाबरंगपुर जिलों में अत्यधिक बारिश हुई।

जनजातीय बहुल मलकानगिरी जिला बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है।

एक अधिकारी ने कहा, पंजम, सप्ताधारा, कोरुकोंडा नदियां खतरे के निशान से उपर बह रही हैं। मलकानगिरी और छत्तीसगढ़ के बीच सड़क संपर्क टूट गया है।

बारिश की स्थिति को देखते हुए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को सात दिनों के लिए प्रति व्यस्क प्रतिदिन 60 रुपये और 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए प्रतिदिन 45 रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है।

पटनायक ने इसके साथ ही जिला प्रशासन को प्रभावित लोगों तक पहुंचने और उन्हें सहायता प्रदान करने का आदेश दिया।

विशेष राहत आयुक्त बिश्नुपडा सेठी ने कहा मलकानगिरी जिले में गुरुवार से बीते 24 घंटे में 166.25 मिलीमीटर बारिश हुई है।

उन्होंने कहा कि 150 लोगों को कोटेरु गांव से सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है, जबकि उन्हें राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है।

तेज बारिश की वजह से कोरापुट में कोलाब बांध अधिकारियों ने जलाशय के दो गेट खोल दिए हैं।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने अधिकतर जगहों पर भारी बारिश की आशंका और राज्य के कुछ जगहों पर अत्यधिक भारी बारिश की आशंका जताई है।

मौसम विभाग ने मछुआरों को अगले 24 घंटे तक ओडिशा तट के आसपास समुद्र में नहीं जाने की सलाह दी है।

राज्य सरकार ने अधिकारियों को किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है।

राष्ट्रीय आपदा अनुक्रिया बल (एनडीआरएफ) और ओडिशा आपदा त्वरित कार्रवाई बल(ओडीआरएएफ) को विभिन्न जिलों में तैनात किया है।

प्रभावित जिलों में सभी सरकारी कार्यालयों की छुट्टियों को रद्द कर दिया गया है।

--आईएएनएस

02:40 PM

कश्मीर : आतंकियों ने अपहृत 3 पुलिसकर्मियों की हत्या की (लीड-2)

श्रीनगर, 21 सितंबर (आईएएनएस)। जम्मू एवं कश्मीर के शोपियां जिले में शुक्रवार को आतंकवादियों ने तीन पुलिसकर्मियों का अपहरण कर लिया और इसके कुछ ही घंटों बाद गोली मारकर तीनों की हत्या कर दी।

पुलिस के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, एक गांव से सुबह गोलियों से छलनी तीन शव बरामद किए गए।

मारे गए पुलिसकर्मियों की पहचान फिरदौस अहमद कुचई, निसार अहमद धाबी और कुलदीप सिंह के रूप में की गई है।

इस हादसे से पहले आतंकवादियों ने कुछ मस्जिदों से घोषणा कर पुलिसकर्मियों से अपनी नौकरी छोड़ने या परिणाम भुगतने की धमकी दी थी।

पुलिस ने कहा कि एक पुलिसकर्मी के भाई सहित चार लोगों को गुरुवार रात शोपियां स्थित उनके घरों से अगवा किया गया था।

चारों को कापरान और बाटगुंड गांवों से अगवा किया गया था। दोनों गांव सेब के घने बगीचे से चारों ओर से घिरे हुए हैं।

अपहृत चौथा व्यक्ति नागरिक था और आतंकियों ने उसे सुरक्षित छोड़ दिया था।

जम्मू एवं कश्मीर पुलिस ने ट्वीट किया, हमने इस निर्मम आतंकवादी घटना में अपने तीन बहादुर साथियों को खो दिया है। तीनों जवानों को श्रद्धांजलि। हम इस अमानवीय कृत्य की निंदा करते हैं और साथ ही आश्वस्त करते हैं कि दोषियों को सजा दिलाई जाएगी।

हत्या में शामिल आतंकवादियों को पकड़ने के लिए शोपियां में खोज अभियान चलाया जा रहा है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मृतक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) थे।

आतंकवादी लगातार एसपीओ को अपनी नौकरी छोड़ने या खामियाजा भुगतने की धमकी देते रहे हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने घटना पर दुख जताते हुए कहा कि वार्ता ही कश्मीर में जारी हिंसा के दुष्चक्र का समाधान हो सकता है।

महबूबा ने ट्वीट किया, तीन और पुलिसकर्मियों ने आतंकवादियों की गोलियां खाकर अपनी जान गंवा दी। हमेशा की तरह गुस्सा, दुख और निंदा जैसे शब्द सुनने को मिलेंगे, लेकिन दुर्भाग्य से इससे मृतकों के परिवारों को सांत्वना नहीं मिलेगी।

उन्होंने कहा, स्पष्ट रूप से पुलिसकर्मियों और उनके परिवारों के अपहरण की घटनाओं में वृद्धि के साथ केंद्र सरकार की नीति बिल्कुल काम नहीं कर रही है। संवाद अब एकमात्र रास्ता प्रतीत होता है।

शुक्रवार की घटना दक्षिण कश्मीर में पुलिसकर्मियों व सुरक्षा बलों पर हमले और अपहरण का ताजा मामला है।

--आईएएनएस

02:28 PM

असम में बिजली का करंट लगने से 6 मरे

गुवाहाटी, 21 सितंबर (आईएएनएस)। असम के नागांव जिले में शुक्रवार को छह लोगों की बिजली का करंट लगने से मौत हो गई।

दुर्घटना खातोवल इलाके में मत्स्य पालन करने वाले स्थान पर हुई।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, एक दिन पहले बिजली का हाई वोल्टेज तार एक तालाब में गिर गया था, जिसकी चपेट में आने से इन सभी लोगों की मौत हो गई। बिजली कर्मचारियों ने बिजली डिस्कनेक्ट नहीं की थी, जिस वजह से यह घटना हुई।

घटना के बाद गुस्साई भीड़ ने बिजल विभाग के एक कर्मचारी को घटना के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए उसके घर में तोड़फोड़ की।

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने घटना की जांच का आदेश दिया है और बिजली मंत्री तपन कुमार गोगोई से घटनास्थल का दौरा करने के लिए कहा है।

--आईएएनएस

12:50 PM
 इन्फोसिस डिजाइन करेगी जीएसटी रिटर्न का नया फॉर्म

इन्फोसिस डिजाइन करेगी जीएसटी रिटर्न का नया फॉर्म

बेंगलुरु, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। वस्तु एवं सेवा कर नेटवर्क (जीएसटीएन) के तकनीकी मामलों की समीक्षा के लिए गठित मंत्री समूह के प्रमुख सुशील कुमार मोदी ने शनिवार को कहा कि जीएसटी ने अपने सॉफ्टवेयर वेंडर (प्रदाता) इन्फोसिस को व्यापारियों द्वारा रिटर्न दाखिल करने के लिए नया फॉर्म डिजाइन करने का निर्देश दिया है।

नेटवर्क की कार्यप्रणाली की समीक्षा के लिए हुई मंत्रिसमूह की 10वीं बैठक के बाद सुशील कुमार मोदी ने यहां संवाददाताओं को बताया, हमने जीएसटी परिषद के सुझाव के अनुसार नेटवर्क पर व्यापारियों द्वारा रिटर्न दाखिल करने को सरल बनाने के लिए इन्फोसिस को नया फॉर्म डिजाइन करने का निर्देश दिया है।

बिहार के उपमुख्यमंत्री और मंत्रिसमूह के प्रमुख मोदी ने कहा, हमने अगले चार से छह महीने में नया सरलीकृत जीएसटी फार्म लागू करने की योजना बनाई है जिससे डीलर या व्यापारी को नेटवर्क के माध्यम से अप्रत्यक्ष कर का भुगतान करने में लाभ मिलेगा।

मंत्रिसमूह ने छोटे करदाताओं के लिए यूनीफॉर्म अकाउंटिंग सॉफ्टवेयर विकसित करने के लिए देशभर से 18 कंपनियों को चिन्हित किया।

मोदी ने कहा, जीएसटी रिटर्न दाखिल करने में समानता सुनिश्चित करने के लिए सभी छोटे व्यापारियों को नया सॉफ्टवेयर प्रदान किया जाएगा।

जीएसटी परिषद ने जैसाकि फैसला लिया है कि ई-कॉमर्स कंपनियां एक अक्टूबर से प्रभावी स्रोत पर कर कटौती (टीडीएस) और स्रोत पर संग्रहित कर (टीसीएस) का भुगतान करेंगी।

केंद्र सरकार ने 13 सितंबर को केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) अधिनियम की धारा 52 के तहत टीडीएस और टीसीएस के प्रावधानों को लागू करने के लिए एक अक्टूबर की तारीख अधिसूचित की थी।

ई-कॉमर्स कंपनियों को 2.5 लाख रुपये से अधिक की अंतर्राज्यीय आपूर्ति पर एक फीसदी तक राज्य जीएसटी और एक फीसदी केंद्रीय जीएसटी के लिए टीडीएस कटौती करनी है।

वहीं, 2.5 लाख रुपये से अधिक की अंतर्राज्यीय आपूर्ति पर दो फीसदी समेकित जीएसटी की कटौती की जाएगी।

--आईएएनएस

10:55 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account