• Last Updates : 07:41 PM
Last Updated At :- 19-06-2018 12:25 PM

चीन के साथ सहयोग बढ़ाने का इच्छुक नेपाल : ओली

काठमांडू, 19 जून (आईएएनएस)। नेपाल के प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली ने अपने चीन दौरे से पहले कहा कि चीन की बेल्ट एवं रोड परियोजना के तहत नेपाल सीमा पार रेलमार्ग कनेक्टिविटी, बुनियादी ढांचे का विकास, व्यापार, निवेश व पर्यटन सहयोग बढ़ाने का इच्छुक है।

ओली मंगलवार को चीन के पांच दिवसीय दौरे पर जा रहे हैं।

उन्होंने एक साक्षात्कार के दौरान सिन्हुआ को बताया कि चीन के साथ दो साल पहले हुए करार में नेपाल बेल्ट और रोड परियोजना के ढांचे के तहत सहयोग को लेकर समझौता ज्ञापन (एमओयू) को लागू करने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने बेल्ट और रोड परियोजना के तहत परियोजनाओं को लागू करने के लिए एक विशेष तंत्र बनाया है और विभिन्न मंत्रालय एक ही लक्ष्य के लिए काम कर रहे हैं।

ओली ने कहा कि दोनों देशों के ट्रांस-हिमालयन बहुआयामी परिवहन नेटवर्क की अवधारणा पर एक समान रुख है।

उन्होंने कहा, इस व्यापक ढांचे के आधार पर चीन के साथ हम रेलवे, सड़क, ट्रांसमिशन लाइनों की सीमा पार कनेक्टिविटी और पारस्परिक लाभ के लिए अन्य संबंधित क्षेत्रों में सहयोग चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि नेपाल ने बेल्ट और रोड परियोजना को महत्वपूर्ण विकास पहल के रूप में देखा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि नेपाल ने हाल ही में चीन के साथ सहयोग के लिए सड़कों, रेलवे, ऊर्जा, संचरण लाइन के क्षेत्रों में कुछ परियोजनाओं का प्रस्ताव दिया है।

ओली ने चीन के साथ नेपाल के संबंधों के बारे में बात करते हुए कहा कि चीन हमारा पड़ोसी है। दोनों देशों के दोस्ताना संबंधों का लंबा इतिहास साझा है।

ओली इस यात्रा के दौरान चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और प्रधानमंत्री ली केकियांग और अन्य वरिष्ठ चीनी नेताओं से मुलाकात करेंगे।

फरवरी में सत्तासीन होने के बाद यह उनकी पहली चीन यात्रा है।

 गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए जारी कर रहा डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट

गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए जारी कर रहा डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट

सैन फ्रांसिस्को, 19 जून (आईएएनएस)। गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट जारी करने जा रहा है, जिससे यूजर्स को अपने एंड्रायड डिवाइस पर मिले मैसेजों को निजी कंप्यूटर (पीसीज) पर सेंड, व्यू और रिसीव करने की सुविधा प्राप्त हो।

द वर्ज की रिपोर्ट में मंगलवार को कहा गया कि सर्च इंजन दिग्गज ने ऐसे फीचर्स को लांच करने की योजना बनाई है, जिसमें आनेवाले हफ्तों में टेक्स्ट, इमेज और स्टिकर को वेब पर सपोर्ट मिलेगा।

यह गूगल की पुश टुवार्ड्स चैट की दिशा में पहला महत्वपूर्ण कदम है, जोकि एंड्रायड संदेशों के अंदर कंपनी के समृद्ध संचार सेवाओं (आरसीएस) का निष्पादन है।

एंड्रायड मैसेंजर में जो अन्य सुधार किए गए हैं, उसमें अंतर्निहित ग्राफिक्स इंटरचेंज प्रारूप (जीआईएफ) सर्च, अधिक कैरियर्स पर स्मार्ट रिप्लाइज को समर्थन, इन-लाइन लिंक प्रीव्यू और टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन मैसेजों के लिए आसान कॉपी/पेस्ट की सुविधा शामिल है।

रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल ने यूजर्स से सिफारिश की है कि अगर उन्हें इस फीचर में कोई समस्या आती है तो अपने वाई-फाई नेटवर्क को बंद कर दुबारा शुरू करें।

यह फीचर सेल्युलर डेटा पर भी काम करेगा।

--आईएएनएस

07:37 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account