• Last Updates : 07:41 PM
Last Updated At :- 19-06-2018 06:22 PM

भारतवंशी मां की कानूनी लड़ाई के बाद बेटे का हत्यारा दोषी करार

कार्बनडेल (अमेरिका), 17 जून (आईएएनएस)। भारतीय मूल की अमेरिकी मां की चार साल लंबी कानूनी लड़ाई के बाद अंतत: उसके बेटे के हत्यारे को दोषी करार दे दिया गया।

मीडिया रपटों के अनुसार, एक न्यायपीठ ने गुरुवार को कार्बनडेल में 2014 में प्रवीण वर्गीज की हत्या के लिए गेज बेथूने को दोषी ठहराया।

फैसले के बाद प्रवीण की मां लवली वर्गीज ने शिकागो ट्रिब्यून से कहा, आखिरकार प्रवीण का दिन आया है। अब उसे शांति मिले सकेगी।

प्रवीण की मौत को अधिकारियों द्वारा एक दुर्घटना बताए जाने के बाद उसकी मां ने लगातार मीडिया, राजनेता व जनता को संगठित करने का काम किया।

भारी दबाव के बाद अधिकारियों ने नए सिरे से जांच का आदेश दिया और एक विशेष अभियोजक नियुक्त किया।

कार्बनडेल पुलिस प्रमुख जोडी ओगुनिन को भी बर्खास्त किया गया।

बेथूने को अब 20 साल से 60 साल जेल की सजा हो सकती है।

प्रवीण (19) का शव एक जंगली इलाके से फरवरी 2014 में जमी हुई अवस्था में मिला था। दक्षिणी इलिनोइस विश्वविद्यालय के छात्र प्रवीण के लापता होने के चार दिन बाद उसका शव बरामद हुआ था।

स्थानीय कोरोनर ने उसकी मृत्यु को एक दुर्घटना बताया था और इसकी वजह अत्यधिक ठंड बताई थी।

लेकिन उसके परिवार ने एक स्वतंत्र पोस्टमार्टम कराई, जिसमें पाया गया कि उसकी मौत सिर पर गंभीर रूप से चोट लगने से हुई थी।

लवली वर्गीज ने इस निष्कर्ष को लेकर ध्यान खींचने के लिए कई संवाददाता सम्मेलन बुलाए।

वालंटियर्स फ्राम आर्कागेल्स ऑफ जस्टिस ने मामले का अध्ययन किया और रिपोर्ट लिखी। यह रिपोर्ट बेथुने की तरफ इशारा करती थी।

वालंटियर्स फ्राम आर्कागेल्स ऑफ जस्टिस एक सेवानिवृत्त कानून प्रवर्तन अधिकारियों का संगठन है।

 गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए जारी कर रहा डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट

गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए जारी कर रहा डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट

सैन फ्रांसिस्को, 19 जून (आईएएनएस)। गूगल एंड्रायड मैसेज के लिए डेस्कटॉप ब्राउसर सपोर्ट जारी करने जा रहा है, जिससे यूजर्स को अपने एंड्रायड डिवाइस पर मिले मैसेजों को निजी कंप्यूटर (पीसीज) पर सेंड, व्यू और रिसीव करने की सुविधा प्राप्त हो।

द वर्ज की रिपोर्ट में मंगलवार को कहा गया कि सर्च इंजन दिग्गज ने ऐसे फीचर्स को लांच करने की योजना बनाई है, जिसमें आनेवाले हफ्तों में टेक्स्ट, इमेज और स्टिकर को वेब पर सपोर्ट मिलेगा।

यह गूगल की पुश टुवार्ड्स चैट की दिशा में पहला महत्वपूर्ण कदम है, जोकि एंड्रायड संदेशों के अंदर कंपनी के समृद्ध संचार सेवाओं (आरसीएस) का निष्पादन है।

एंड्रायड मैसेंजर में जो अन्य सुधार किए गए हैं, उसमें अंतर्निहित ग्राफिक्स इंटरचेंज प्रारूप (जीआईएफ) सर्च, अधिक कैरियर्स पर स्मार्ट रिप्लाइज को समर्थन, इन-लाइन लिंक प्रीव्यू और टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन मैसेजों के लिए आसान कॉपी/पेस्ट की सुविधा शामिल है।

रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल ने यूजर्स से सिफारिश की है कि अगर उन्हें इस फीचर में कोई समस्या आती है तो अपने वाई-फाई नेटवर्क को बंद कर दुबारा शुरू करें।

यह फीचर सेल्युलर डेटा पर भी काम करेगा।

--आईएएनएस

07:37 PM
Stock Exchange
Live Cricket Score

Create Account



Log In Your Account